Foods
Trending

देसी आम का अचार घर का रेसिपी (Desi Aam ka achar ghar ka recipe)

Desi Aam ka achar ghar ka recipe

Image Credit : YouTube Thumbnail

  • Desi Aam ka Achar Banane Ka Recipe: गांव घर में गांव जैसा स्वाद लाने के लिए।
Aam ka achar ghar ka recipe: देसी गांव घर के टेस्ट आम के अचार के बिना अधूरा है। यह देसी आम का अचार साबुत मसालों और सरसों के तेल में स्टोर करके रखा जाता है। गोभी और आलू के परांठे के साथ आम का अचार मिल जाए तो इसका स्वाद और भी बढ़ जाता है।
लेकिन अब आपको बाजार से आम का अचार खरीद के लाने की जरूरत नहीं है आप चाहे तो थोड़ी सी मेहनत के साथ इस आसान सी रेसिपी के साथ घर पर भी तैयार कर सकते हैं।
Desi Aam ka Achar Banane Ka Recipe: गांव घर में गांव जैसा स्वाद लाने के लिए। आम का अचार कच्चे आम और साबुत मसालों से बनाया जाता है। आम का अचार बनाते वक्त उसमें तेल अच्छी मात्रा में डाला जाता है ताकि आम पूरी तरह मुलायम हो जाए।
आम का अचार पूरी तरह बनने में लगभग एक महीने का समय लगता है जिसमें आपको ध्यान देना पड़ता है कि आम का अचार गांव घर जैसा बना है कि नहीं
Aam ka Achar kaise Sarv Karen: इस अचार को दाल चावल, रोटी या परांठे के साथ खाया जाता है। इस आम के अचार को खाने से गांव घर की याद आती है जिसमें स्वाद के अनुसार आम का अचार बहुत ही स्वादिष्ट होता है सभी खाना के साथ।

देसी आम का अचार की सामग्री

  • 2 ½ kg आम, टुकड़ों में कटा हुआ
  • 110 ग्राम मेथी दाना
  • 60 ग्राम लाल मिर्च पाउडर (मोटी कूटी हुई)
  • 500 ग्राम कलौंजी
  • 110 ग्राम सौंफ
  • 2 टेबल स्पून काली मिर्च के दाने
  • 60 ग्राम हल्दी पाउडर
  • 350 ग्राम नमक
  • 1 ½ लीटर सरसों का तेल

देसी गांव घर का आम का अचार बनाने की वि​धि

1.सभी मसालों को एक साथ मिला लें और आधा कप तेल डाल लें। इसका थोड़ा-सा मिश्रण जार में छिड़क दें।
2.अब आम के टुकड़ों को मसालों में डालकर अच्छे से रगड़ें और जार में इन आम के टुकड़ों की एक परत बिछा दें और फिर ऊपर से थोड़े मसाले डाल दें।
3.इसी प्रक्रिया को दोहराते हुए जार में आचार डालते जाएं और बचे हुए मसालों को आखिर में ऊपर से डाल दें।
4.बचा हुआ तेल ऊपर से जार में डालें और एक हफ्ते के लिए जार को धूप में रखें और उसके बाद स्टोर कर लें।
5.एक महीने में Aam के टुकड़े मुलायम हो जाएंगे। अपने पसंदीदा परांठे के साथ अचार सर्व करें।
देसी आम का अचार घर का रेसिपी (Desi Aam ka achar ghar ka recipe)
देसी Aam का अचार घर का रेसिपी (Desi Aam ka achar ghar ka recipe

देसी आम का अचार घर का रेसिपी

Key Ingredients: Aam, मेथी दाना, लाल मिर्च पाउडर (मोटी कूटी हुई), कलौंजी, सौंफ, काली मिर्च के दाने, हल्दी पाउडर, नमक, सरसों का तेल , आप इन सभी चीजों के बारे में सही तरीके से ध्यान रखें वरना आप का अचार का स्वाद बिगड़ सकता है।

नोट रेसिपी: Aam का अचार बनाते वक्त ध्यान रहे कि अचार में तेल अच्छी मात्रा में डालें। अगर आप चाहे तो कमेंट बॉक्स पर कमेंट कर कर आप हमें अन्य रेसिपी के बारे में पूछताछ कर सकते हैं और हम आपके लिए अन्य रेसिपी का भी पोस्ट जरूर लिखेंगे।

Q, 1 आम का अचार खराब हो जाए तो क्या करें?
Ans, अचार में अतिरिक्त तेल और नमक मिलाएं:-
कई बार अचार में पड़ने वाले तेल मसालों की कमी की वजह से उसमें फफूंदी लगने लगती है। इसके अलावा जब अचार में तेल ठीक से मिक्स नहीं हो पाता है तब भी अचार में फंगस लग जाती है। अचार को फंगस से बचाने के लिए इसमें थोड़ी ज्यादा मात्रा में तेल और नमक मिक्स करेंताकि आप का अचार बहुत लंबे समय तक टिका रहे और आप अचार का आनंद ले पाए।
Q, 2 अचार के लिए कौन सा तेल सबसे अच्छा है?
Ans, देसी आम का अचार बनाने के लिए सबसे अच्छा सरसों का तेल है:-
अगर आपको देसी Aam का अचार बनाना है तो सबसे अच्छा! अचार बनाने में सबसे अच्छा तेल सरसों का तेल होता है ! यह न केवल सभी अवयवों के स्वाद को बढ़ाने में सहायता करता है, बल्कि इसके स्वास्थ्य लाभों के लिए भी जाना जाता है।
Q, 3 सबसे अच्छा देसी अचार कौन सा है?
Ans, सबसे अच्छा देसी आम का अचार है:-
देसी Aam का अचार सबसे अच्छा इसलिए है क्योंकि इसे हर घरों में इस्तेमाल किया जाता है और स्वाद में भी बहुत ही टेस्टी होता है जिसे लोग इसे पसंद करते हैं।
Q, 4 अचार खराब क्यों नहीं होता है?
Ans, संकेत- अत्यधिक लवण और तेल की परत परिरक्षकों की तरह कार्य करते हैं:- 
यह जीवाणु की वृद्धि नहीं होने देते इसलिए अचार जल्दी खराब नहीं होता और अचार लंबे समय तक टिका रहता है।
Q, 5 अचार में फिटकरी क्यों डालते हैं?
Ans, अचार में तेल पर्याप्त मात्रा में हो:-
अचार में तेल सही मात्रा में न होने से आपका अचार खराब हो सकता है. अचार डालते वक्त इस बात का भी ध्यान रखें की इसमें डाले जाने वाले सभी मसाले घर पर ही पीसकर ही डालें. सबसे जरूरी बात अचार डालने के बाद इसे धूप दिखानी होती है, बरनी के मुंह को मलमल के कपड़े से ढककर रखें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button